google.com, pub-7859222831411323, DIRECT, f08c47fec0942fa0 मिथिलेश - विंध्यवासिनी के शादी की पांचवी सालगिरह

मिथिलेश - विंध्यवासिनी के शादी की पांचवी सालगिरह


तिथि :22 नवंबर 2015 
दिन : रविवार 
अवसर : मिथिलेश सिंह और विंध्यवासिनी सिंह के विवाह की पांचवी सालगिरह 
स्थान : G -1 ,130 उत्तम नगर नई दिल्ली 

आज हमारी शादी को पांच साल हो पूरे होने के उपलक्ष में  एक छोटा सा आयोजन रखा गया था संयोग से उस दिन  एकादसी और तुलसी विवाह भी होने से घर में पूजा -पाठ की तैयारियां भी जोरों पर थी .मेरे पतिदेव विषेश रूप से खुश थे पांचो भाई जो इकट्ठा हुए थे .आर्यांश भी अपने छोटे भाई बहन का साथ पाकर खूब उछल-कूद किये ,मेरी देवरानी पूजा के आ जाने से मुझे भी किचन के कामों में बहुत सहूलियत हो गयी.हंसी मजाक के साथ ही खाने और गाने का दौर चल रहा था .रात का खाना खाने के बाद परिवार के सभी सदस्य इकठ्ठा बैठे और गॉव में रह रहे बुजुर्ग माता -पिता की सेवा कैसे हो ,तथा  परिवार का विकास कैसे हो,गॉव के जरूरतमंद लोगो को कैसे सहायता पहुँचाया जाये ,इन विषयों पर सार्थक चर्चा हुई .सब ने अच्छे और बेहतरीन सुझाव दिए .इसी के साथ रात्रि विश्राम और सुबह सब लोग का सुखद स्मृति के साथ प्रस्थान .

उपस्थित परिवारजन : मिथिलेश सिंह ,विमलेश सिंह ,अनूप सिंह ,कौशलेश  सिंह ,अनुज सिंह,विंध्यवासिनी सिंह ,पूजा सिंह ,आर्यांश सिंह,आयुष सिंह,संतुष्टि सिंह.










Post a Comment

0 Comments